Prediction: कोरोना वायरस को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, 40 साल पहले ही हो गई थी भविष्यवाणी

Prediction
Spread the love

जिस कोरोना वायरस (Coronavirus) ने चीन ही नहीं दुनियाभर में भयंकर दहशत मचाई हुई है और अब तक हजारों लोगों की जान ले चुका है. अगर कोई आपसे कहे की इस महामारी को लेकर पहले ही भविष्यवाणी (Prediction of coronavirus) कर दी गई थी, तो क्या आप यकीन कर सकोगे? नहीं ना! लेकिन ये एकदम सच है की इस वायरस से हजारों चीनी मारे जाएंगे, इसकी जानकारी पहले भी किसी के पास थी.Prediction

दरअसल, आज से 40 साल पहले एक चीनी लेखक ने कोरोना वायरस को लेकर भविष्यवाणी (Prediction) की थी. इतना ही नहीं उसने अपनी किताब में ‘कोरोना’ शब्द भी यूज किया था. अब चूंकि इस कोरोना ने भयंकर तबाही मचाई हुई है, इस किताब की चर्चा चारों ओर हो रही है. इस किताब का नाम था, द आइज ऑफ डार्कनेस. जिसे डीन कोंटोज ने 1981 में लिखा था.

इस थ्रिलर उपन्यास, The eyes of darkness में Dean kontos ने वुहान 400 (Wuhan-400) नामक एक वायरस का उल्लेख किया था. उन्होंने इस वायरस (Coronavirus) को प्रयोगशाला में एक हथियार के रूप में बनाने का जिक्र किया था. लोगों ने एक ट्वीट के जरिये उस उपन्यास में लिखी गई वो लाइन शेयर किया है, जिसमें वुहान 400 नामक वायरस का जिक्र किया गया है. पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी ने भी इसे अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया है.Prediction

दुनियाभर के वैज्ञानिक इस उपन्यास में हुई भविष्यवाणी (Prediction) को लेकर हैरान है. लोग इस कोरोना नामक महामारी (Coronavirus) को इस किताब से जोड़ने की कोशिश कर रहे हैं. ये भी ध्यान देने वाली बात है की किस आधार पर सालों पहले ‘कोरोना’ नामक शब्द का इस्तेमाल हुआ, और इस घातक वायरस की भविष्यवाणी किस आधार पर की गई. आपकी जानकारी के लिए बता दें की अब तक इस घातक वायरस ने 2000 से अधिक लोगों की ज़िंदगी छीन ली है और करीब 80 हज़ार से भी अधिक इससे संक्रमित है.